Mon. Aug 19th, 2019

न्यू लॉन्च /तेज और फ्लेक्सिबल केवाईसी ऐप KYZO लॉन्च, डेटा रखेगा सेफ; ऑफलाइन भी होगा यूज

0521_1_79 न्यू लॉन्च /तेज और फ्लेक्सिबल केवाईसी ऐप KYZO लॉन्च, डेटा रखेगा सेफ; ऑफलाइन भी होगा यूज Tech knowledge

गैजेट डेस्क. देश की फिनटेक स्टार्टअप कंपनी एफआरएसलैब्‍स (FRSLABS) ने नया कायजो (KYZO) ऐप लॉन्च किया है। ये ऐप यूजर को डॉक्युमेंट्स सेव करने का प्लेटफॉर्म देता है। जिसे बाद में डिजिटली यूज किया जा सकता है। कंपनी इस ऐप से इंडीविजुअल और बिजनेस दोनों के केवाईसी फॉर्मेट को बदलना चाहता है। यूजर द्वारा डॉक्युमेंट्स को कहीं भी और कभी भी डिजिटलाइज उपयोग में लाने के लिए ओसीआर और कम्प्यूटर विजन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करता है।

ऐप पर यूजर्स अपने सभी डॉक्युमेंट्स जो केवाईसी के दौरान भी काम आते हैं उन्हें ऐप पर अपलोड कर सकता है। डॉक्युमेंट्स को अपलोड करने की प्रोसेर बेहद आसान है। इसके लिए यूजर को सिर्फ डॉक्युमेंट्स स्कैन करना है, जिसके बाद वो उस पर अपलोड हो जाता है। डॉक्युमेंट्स एक बार अपलोड हो जाएं तब उन्हें ऑफलाइन यानी बिना इंटरनेट के भी यूज किया जा सकता है। इसके लिए कंपनी ने स्कैनिंग और फेस कैप्चर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया है, जो ऑफलाइन काम करती है। यूजर्स का डेटा एनक्रिप्टेड होता है और उपयोग के लिए पूरी तरह सुरक्षित रहता है।

ऐप पर यूजर्स अपने सभी डॉक्युमेंट्स जो केवाईसी के दौरान भी काम आते हैं उन्हें ऐप पर अपलोड कर सकता है। डॉक्युमेंट्स को अपलोड करने की प्रोसेर बेहद आसान है। इसके लिए यूजर को सिर्फ डॉक्युमेंट्स स्कैन करना है, जिसके बाद वो उस पर अपलोड हो जाता है। डॉक्युमेंट्स एक बार अपलोड हो जाएं तब उन्हें ऑफलाइन यानी बिना इंटरनेट के भी यूज किया जा सकता है। इसके लिए कंपनी ने स्कैनिंग और फेस कैप्चर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया है, जो ऑफलाइन काम करती है। यूजर्स का डेटा एनक्रिप्टेड होता है और उपयोग के लिए पूरी तरह सुरक्षित रहता है।

सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर से KYZO ऐप को फ्री इन्स्टॉल करें। अब डॉक्युमेंट्स अपलोड करने के लिए SCAN पर जाएं। डॉक्युमेंट्स का QR कोड स्कैन करते ही अपलोडिंग प्रोससे शुरू हो जाएगी। डॉक्युमेंट्स सेंड करने के लिए QR कोड स्कैन करना होगा। अब वैरिफिकेशन पिन डालें, डॉक्युमेंट सेंड हो जाएंगे।   कंपनी का कहना है कि यूजर के सभी डॉक्युमेंट्स फोन में रहेंगे (एनक्रिप्टेड)। ये क्लाउड में नहीं जाएंगे, जिससे इनके हैकिंग या लीक होने का खतरा नहीं होता।

 

कंपनी का कहना है कि यूजर के सभी डॉक्युमेंट्स फोन में रहेंगे (एनक्रिप्टेड)। ये क्लाउड में नहीं जाएंगे, जिससे इनके हैकिंग या लीक होने का खतरा नहीं होता।

एफआरएसलैब्‍स के सीईओ शंकर ने कहा, “केवाइसी प्रगति का अभिन्न अंग है। चाहे बैंक में खाता खोलना हो, सिम लेना हो, कार किराए पर देनी हो या डिलीवरी पार्टनर को बिजनेस में ऑनबोर्ड करना हो, केवाइसी आवश्‍यक और अनिवार्य हो चुकी है। हालांकि, मौजूदा केवाइसी प्रोसेस में समय लगता है, यह अत्‍यधिक हस्‍तक्षेप वाली है और बाधाओं से भरी हैं। केवाइडओ के साथ हम ग्राहकों और व्यवसायों को त्वरित और विश्वसनीय तरीके से ऑनबोर्डिंग की विधि दे रहे हैं।”

एफआरएसलैब्‍स के सीईओ शंकर ने कहा, “केवाइसी प्रगति का अभिन्न अंग है। चाहे बैंक में खाता खोलना हो, सिम लेना हो, कार किराए पर देनी हो या डिलीवरी पार्टनर को बिजनेस में ऑनबोर्ड करना हो, केवाइसी आवश्‍यक और अनिवार्य हो चुकी है। हालांकि, मौजूदा केवाइसी प्रोसेस में समय लगता है, यह अत्‍यधिक हस्‍तक्षेप वाली है और बाधाओं से भरी हैं। केवाइडओ के साथ हम ग्राहकों और व्यवसायों को त्वरित और विश्वसनीय तरीके से ऑनबोर्डिंग की विधि दे रहे हैं।”

Publish By: Danik Bhasker